Sunday, May 7, 2017

Maa To Jannat ka Phool hai
Pyar karna Uska Usool hai
Dunia ki Mohhabat Phijool hai
Maa ki har Dua Kabool hai.

माँ तो जन्नत का फूल है
प्यार करना उसका उसूल है।
दुनिया की मोहब्बत फ़िज़ूल है
माँ की हर दुआ कबूल है।

10 comments:

JEEWANTIPS said...

माँ ईश्वर का प्रतिरूप ही है।
बहुत बढ़िया पोस्ट

Pammi said...

बहुत सुंदर अभिवयक्ति..

Onkar said...

बहुत सुन्दर

Sanju said...

maa vardan hai.

Kailash Sharma said...

बहुत सुन्दर और भावपूर्ण अभिव्यक्ति...

Jamshed Azmi said...

बहुत ही शानदार और प्रभावी रचना की प्रस्तु ति। मुझे बेहद पसंद आई।

Shanti Garg said...

Bahut badhiya.....

mahendra verma said...

वाह, बहुत बढ़िया ।

शुभा said...

बहुत सुंदर प्रस्तुति ।

India Darpan said...

bahut hi badhiya....